You are here
Home > टेक्नोलॉजी > गूगल अद्सेंसे adsense क्या है ? जाने पैसे कमाने की पूरी प्रक्रिया

गूगल अद्सेंसे adsense क्या है ? जाने पैसे कमाने की पूरी प्रक्रिया

hindi-blog-adsense-account

जाने गूगल अद्सेंसे adsense क्या है ? पैसे कमाने की पूरी प्रक्रिया

पैसा बनाने की मशीन: रिच डैड, पुअर डैड के लेखक रॉबर्ट कियोस्की द्वारा दी गयी पैसिव इनकम की परिभाषा पर खरा उतरने वाले गूगल एडसेंस के जरिये उस काम से भी पैसे कमाए जा सकते हैं, जिसके लिए आपने काम न किया हो। शर्त केवल इतनी है कि आपको अपने दिमाग और लोगों की रूचि को ध्यान में रखना होगा। गूगल ऐडसेंस(Google Adsense) को यदि पैसा कमाने की मशीन कहा जाये तो कोई बड़ी बात नहीं होगी। Google Adsense से जुड़े हजारों लाखों लोग इस बात का सबूत हैं। यह आपके लिए पैसा बनाने की एक ऐसी मशीन बन सकता है, जिसकी बदौलत आप सोते और जागते 50, 100 या 150 डॉलर कमा सकते हैं बस निवेश के रूप में आपको अपना समय खर्च करना पड़ेगा। यह सुनने में थोड़ा अजीब जरूर लगेगा मगर यह हकीकत है। चाहे आपकी उम्र कुछ भी क्यों न हो, आप अच्छे लेखक हो या न हों, आपके पास अनुभव भी कुछ न हो, मगर आप इससे जुड़ सकते हैं। यही नहीं यह इस्तेमाल में बेहद आसान है। क्या आप इसे तुरंत आजमाने वाले हैं? लेकिन टेक्नोक्रेट्स इसकी सलाह नहीं देते। एडसेंस पर साइन अप करने से पहले आपको यह पता होना चाहिए कि आप क्या करने वाले हैं? और उससे भी पहले एडसेंस है क्या?

गूगल एडसेंस क्या है?(What is Google Adsense?): इसका सीधा सा उत्तर है कि यह गूगल द्वारा 2003 में शुरू की गयी एक विज्ञापन सेवा है। जो सभी प्रकार की वेबसाइट और कंटेंट पेज पर विज्ञापन देती है। एडसेंस पर साइन अप करने के साथ ही आप गूगल द्वारा दिए जाने वाले advertise को स्वीकार करने के लिए सौदा करते हैं। इसके तहत आपकी वेबसाइट या कंटेंट पेज पर विजिट करने वाले व्यक्ति जितनी बार एडसेंस द्वारा दिए advertisement पर क्लिक करते हैं, उतनी बार आपके खाते में पैसे जाते हैं। गूगल एडसेंस आपकी वेबसाइट या कंटेंट पेज की विषयवस्तु और उसे विजिट करने वाले की रूचि को देखते हुए आपकी वेबसाइट पर विज्ञापन दिखाने का काम करता है। उदाहरण के लिए यदि आपकी वेबसाइट पर स्वास्थ्य संबंधी जानकारी है तो गूगल आपकी साईट पर जिम, हॉस्पिटल, स्पा, हेल्थ ड्रिंक आदि के विज्ञापन देगा।
Google Adsense पर साइन अप कैसे करें?: गूगल एडसेंस पर साइन अप करना बहुत आसान है। इसमें केवल कुछ मिनट का समय लगता है। सबसे पहले आपको एक एप्लीकेशन फॉर्म भरना होता है। जिसमें थोड़ी बहुत जानकारी के अलावा आपसे पूछा जाता है कि आपको व्यक्तिगत अकाउंट चाहिए या कंपनी अकाउंट। इसी के आधार पर आपको राशि का भुगतान किया जाता है। यह राशि को आप तक पहुँचाने के तीन तरीके अपनाता है-

  • इलेक्ट्रॉनिक फण्ड ट्रान्सफर (Electronic fund transfer)
  • लोकल करेंसी चेक (Local currency cheque)
  • सिक्योर्ड एक्सप्रेस डिलीवरी

यहाँ यह समझ लेना जरूरी है कि शुरुआत में आपके पास सीपीसी(कॉस्ट पर क्लिक या प्रति क्लिक पर राशि) या सीपीएम (कॉस्ट पर मिले या प्रत्येक हजार बार जब आप विज्ञापन दिखाते हैं) में से किसी एक को चुनने का विकल्प नहीं होता है। साइन अप की प्रक्रिया पूरी करने के बाद गूगल एडसेंस आपसे आपकी वेबसाइट के यूआरएल की मांग करता है और स्वीकृति के रूप में एडसेंस कोड देता है। आपको केवल इस कोड को वेबसाइट के निर्धारित एचटीएमएल ब्लाक में कॉपी और पेस्ट करना पड़ता है। इसके साथ ही आपकी वेबसाइट को मिलने वाले विज्ञापन और कमाई का सिलसिला शुरू हो जाता है।
वेबसाइट से कमाई: यह सब जानने के बाद क्या आपको लगता है कि आप सालभर में करोड़पति बन सकते हैं? इस बात का दावा नहीं किया जा सकता लेकिन इस बात से इंकार भी नहीं किया जा सकता है। इस तरह से ब्लॉग से अर्न करने में कुछ महीने का समय लग सकता है। यह न सोचे कि ब्लॉग पर साइन अप करते ही तुरंत पैसा बरसना चालू हो जायेगा। आपकी इनकम आपकी वेबसाइट को मिलने वाले ट्रैफिक पर निर्भर करती है।
सधे हुए कदम: एडसेंस के भरोसे नौकरी छोड़ने की गलती कतई न करें, क्योंकि टॉप ब्लॉग और वेबसाइट भी विज्ञापन से एक दिन में 30,000 डॉलर ही कमाती हैं, जबकि करोङो लोग इन वेबसाइट को देखते हैं। जब वे करोङो नहीं बनाते तो आप कैसे बना सकते हैं? एडसेन्स उस ब्लॉग या वेबसाइट के लिए हैं, जिन्हें हर दिन कम से कम 1000 नए विजिटर देखते हैं।
एक कंटेंट-रिच साईट या एडसेंस से कमाई करने वाली वेबसाइट पर सूचनाओं का अम्बार होता है, जो मूलतः वेबसाइट की विषयवस्तु पर आधारित होते हैं। वेबसाइट पर उपलब्ध सूचनायें या लेख 250 से 759 शब्दों से ज्यादा नहीं होने चाहिए, ताकि उन्हें 5 मिनट में पड़ा जा सके। इसका मूल उद्देश्य हमेशा लोगों को आकर्षित करना होना चाहिये ताकि वे उसे बार-बार देखें और विज्ञापन पर क्लिक करें।
Google Adsense के अलावा अन्य विकल्प भी हैं: Google Adsense के आलावा कुछ अन्य जैसे bidvertiser, textlink ads और Blogads भी हैं। ऑनलाइन एडवरटाइजिंग के अन्य स्वरुप डायरेक्ट बैनर्स  और आर एस एस पर भी हैं। इन पर साइन अप करने के बाद आप स्टेप बाई स्टेप दिए गए निर्देशों का पालन करें। अगर कोई Brand आपके Blog पर ad पोस्ट करने के लिए एप्रोच करे तो उससे वीकली या प्रति दिन के हिसाब से चार्ज कर सकते हैं।  कई बार ऐसा भी देखा जाता है कि अगर किसी Blog पर एड ज्यादा हो तो विज़िटर उस Blog से हटना ही पसंद करता है। यह भी ध्यान रखें।

Leave a Reply

Top